Breaking

Thursday, June 25, 2020

एकीकृत कृषि प्रणाली से किसानों की आय होगी दोगुनी और बढ़ेगा रोजगार : जिलाधिकारी



जिलाधिकारी सी0 इन्दुमती ने आकस्मिक भ्रमण कर आज कमला नेहरू कृषि विज्ञान केन्द्र-1, सुलतानपुर के सभाकक्ष में एकीकृत कृषि प्रणाली से सम्बन्धित अधिकारियों/वैज्ञानिकों के साथ एक आवश्यक बैठक की, जिसमें सभी सम्बन्धित अधिकारियों को एकीकृत कृषि प्रणाली (इन्टी ग्रेटेड फार्मिंग सिस्टम) के सम्बन्ध में अधिकारियों के साथ वार्तालाप कर आवश्यक दिशा निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि एकीकृत कृषि प्रणाली से किसानों की जहाँ आय होगी दोगुनी वहीं रोजगार के अवसर भी मिलेंगे।  
जिलाधिकारी ने बैठक में निर्देशित किया जनपद के प्रत्येक विकास खण्ड में कम से कम एक-एक किसान को रोल माडल के रूप में एकीकृत कृषि प्रणाली के माध्यम से कृषि उत्पादन करने हेतु चिन्हित करें तथा उन्हें सरकारी प्रोत्साहन राशि एवं तकनीकी जानकारी भी प्रदान करें। एकीकृत कृषि प्रणाली के अन्तर्गत कृषि के साथ-साथ कृषि वानिकी प्रणाली, कृषि बागवानी, मत्स्य पालन, मधुमक्खी पालन, बकरी पालन, मुर्गी पालन, बत्तख पालन, मशरूम उत्पादन, दुग्ध उत्पादन, वर्मी कम्पोस्ट तैयार करना, एकीकृत कीट प्रबन्धन, नर्सरी सब्जी उत्पादन, एक जनपद एक उत्पाद के माध्यम से किसानों की आय दोगुनी करने हेतु समस्त आवश्यक प्रयास करने के लिये वरिष्ठ वैज्ञानिक एवं कृषि अधिकारी को निर्देशित किया और जैविक खेती अपनाने एवं गोबरदान करने पर विशेष बल दिया। जिलाधिकारी ने खण्ड विकास अधिकारियों के माध्यम से एकीकृत कृषि प्रणाली का व्यापक प्रचार-प्रसार किये जाने के निर्देश दिये।  
    जिलाधिकारी ने कोविड-19 महामारी से उत्पन्न हुई बेरोजगारी दूर करने हेतु कृषि क्षेत्र में किचन गार्डन, पशु पालन, एक जनपद एक उत्पाद के क्षेत्र में किसानों की भागीदारी सुनिश्चित करने हेतु निर्देशित किया। उन्होंने निर्देशित किया कि मनरेगा, उद्यान आदि विविध क्षेत्रों में भी किसानों की सहभागिता सुनिश्चित करायें, जिससे एक तरफ जहाँ किसानों के उत्पादन एवं आय में वृद्धि होगी वहीं दूसरी तरफ रोजगार सृजन भी होगा। 
बैठक के दौरान वरिष्ठ वैज्ञानिक डॉ0 जे0बी0 सिंह ने पावर प्वाइंट के माध्यम से किसानों की आय दोगुनी करने का प्रस्तुतीकरण किया। शस्य वैज्ञानिक डॉ0 ए0के0 सिंह द्वारा एकीकृत कीट प्रबन्धन एवं कृषि प्रणाली को अपनाकर कम लागत में अधिक लाभ तथा गुणवत्तापूर्ण उपज प्राप्त करने की तकनीक बतायी गयी। कृषि प्रसार वैज्ञानिक डॉ0 सी0के0 त्रिपाठी ने एकीकृत कृषि प्रणाली को बढ़ावा देने के सम्बन्ध में विस्तृत जानकारी दी। 
बैठक के उपरान्त जिलाधिकारी द्वारा कृषि विज्ञान केन्द्र स्थित मत्स्य पालन, एकीकृत कृषि प्रणाली माडल, लो-पॉली टनल नर्सरी, वर्मी कम्पोस्ट यूनिट, नाडेप कम्पोस्ट यूनिट एवं अन्य इकाईयों का भी निरीक्षण किया गया। 
इस अवसर पर उप कृषि निदेशक शैलेन्द्र कुमार शाही, जिला कृषि अधिकारी विनय कुमार, भूमि संरक्षण अधिकारी आशीष कुमार, जिला उद्यान अधिकारी रणविजय सिंह, खण्ड विकास अधिकारी डॉ0 संतोष कुमार, एल0टी0 अतुल कुमार सिंह, सम्मानित किसान रामकीरत मिश्र सहित सम्बन्धित अधिकारी आदि उपस्थित रहे।





No comments:

Post a Comment

FlatBook

Check out the latest news from India and around the world. Latest India news on Bollywood, Politics, Business, Cricket, Technology and Travel. sarkariresult.org.uk.




Recent

Contact Us

Name

Email *

Message *